Resource Center

  Date : 30-04-2015   Platform/Online Media:: Your Story Source

दूसरी कंपनियों के फाइनेंस, एकाउंटिंग फंक्शन से मिला करोड़ों का बिजनेस

क्या फाइनेंस और एकाउंटिंग फंक्शन मैनेज करने के चलते आप अपने बिजनेस पर ध्यान नहीं दे पा रहे हैं? क्या आपको कंपनी के फाइनेंस को मैनेज करने के लिए बिजनेस कंसल्टेंट की सलाह के अलावा दूसरे तरह की मदद की भी जरूरत है?

अगर इन सवालों का जवाब हां है तो आप अकेले नहीं हैं। कई उद्यमी आज थर्ड पार्टी को फाइनेंशियल सर्विसेज मैनेज करने के लिए दे रहे हैं। रिश्ते में भाई लगने वाले दीपक नारायणन और एस. वेंकट को जब इसका अहसास हुआ तो उन्होंने इसका फायदा उठाने के लिए WealthTree एडवाइजर्स के तहत MyCFO की स्थापना की। यह ऑनसाइट एकाउंटिंग फाइनेंशियल सर्विस वेंचर है।

2007 में WealthTree एडवाइजर्स की स्थापना करने से पहले 34 साल के नारायणन अर्न्स्ट एंड यंग (EY) में बिजनेस कंसल्टेंट और 41 साल के वेंकट हाइंस में सीएफओ थे। दोनों की कंपन विदेशियों को भारत में बिजनेस शुरू करने में मदद करती थी। कंपनी शुरू करने के लिए दोनों भाइयों ने अपनी बचत की रकम लगाई। दोनों में से हरेक ने एक लाख रुपये का इनवेस्टमेंट किया। हालांकि, जब 2008 में फाइनेंशियल क्राइसिस के चलते पश्चिमी देशों की इकनॉमी धराशायी हो गई, तब बहुत कम कंपनियां भारत में बिजनेस शुरू करने में दिलचस्पी ले रही थीं। इससे WealthTree के बिजनेस पर बुरा असर पड़ा। तभी एक बिजनेस डील के दौरान उन्हें अहसास हुआ कि कई छोटी भारतीय कंपनियों को प्रोफेशनल फाइनेंशियल सर्विस की जरूरत है। नारायणन ने कहा, 'इसके बाद अपने फॉरेन क्लाइंट्स के जरिए हमने भारतीय कंपनियों से संपर्क किया। हमने पाया कि भारतीय कंपनियों को फाइनेंस और एकाउंटिंग फंक्शन्स को मैनेज करने में दिक्कत हो रही थी। तब मैंने और वेंकट ने दिसंबर 2010 में MyCFO की स्थापना की।'

आज WealthTree के 130 में से 120 एंप्लॉयीज MyCFO के साथ काम कर रहे हैं। कंपनी को 90 पर्सेंट रेवेन्यू MyCFO से मिल रहा है। 2014-15 में कंपनी का रेवेन्यू 8 करोड़ रुपये रहा। वेंकट ने बताया, 'हमारा बिजनेस रेगुलर बिजनेस कंसल्टेंसी से काफी अलग है। हम क्लाइंट को सिर्फ एडवाइज देने के बजाए उनका काम करवाने पर फोकस करते हैं।'

MyCFO का हेडक्वॉर्टर मुंबई में है। अभी कंपनी की मौजूदगी दिल्ली, बेंगलुरु, हैदराबाद, पुणे, चेन्नई और कोयम्बटूर में है। हालांकि, कंपनी से जुड़े प्रोफेशनल्स क्लाइंट्स के ऑफिस में जाकर काम करते हैं। नारायणन ने कहा कि हमारे प्रोफेशनल्स देश भर में मौजूद क्लाइंट्स के ऑफिस में काम कर रहे हैं। इसलिए हमें हर जगह ऑफिस खोलने की जरूरत नहीं है। कंपनी के पास अभी 100 से ज्यादा क्लाइंट्स हैं। वहीं, वेंकट ने बताया, 'हर कस्टमर, हर सिचुएशन और जिस वक्त पर हम कस्टमर के साथ डील करते हैं, वह हमारे लिए यूनीक होता है। हम कंपनी की जरूरत को ध्यान में रखकर उसके लिए सॉल्यूशंस बनाते हैं। यह काम चुनौती वाला है। हालांकि, हम क्लाइंट्स से वादा हमेशा निभाते हैं।'